शांतिनगर वार्ड-14 में प्रतिदिन सेनेटाइजेशन हो व कोविड टेस्टिंग सेंटर आरंभ किया जाये-पण्डित विनोद चौबे

Share

भिलाई –समाजसेवी एवं भाजपा कार्यकर्ता आचार्य पण्डित विनोद चौबे का कहना है कि शांतिनगर एवं वैशाली नगर जैसी घनी आबादी के बीच में मात्र एक ही स्थान वैशाली नगर उपस्वास्थ्य केंद्र’ में प्रतिदिन के 50 से 70 टेस्टिंग ही हो पा रहा है, जबकि प्रतिदिन वहां 250 से 300 लोगों की भीड़ लगी रहती है, जो कोरोना संक्रमण फैलाने के लिए काफी है। कोरोना संक्रमण की भयावहता का आलम ये है कि हर मोहल्ले में अब मरीजों की बढ़ती संख्या के साथ साथ ही मरने वालों की संख्या भी बढ़ती जा रही है, जिसका सबसे बड़ा कारण है, सही समय पर टेस्टिंग का ना हो पाना। इसके साथ ही जिन संक्रमित परिवार को होम आइसोलेट किया जा रहा है उन्हें स्वास्थ्य विभाग द्वारा ठीक से मॉनिटरिंग नहीं जा रहा है। नगरपालिक निगम भिलाई के महापौर देवेन्द्र यादव द्वारा कोरोना संक्रमण के रोकथाम के लिए पिछले एक साल में कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया, ना ही नगर पालिक निगम के संबंधित अधिकारियों ने कोई रुचि ली। अब प्रशासन बैठकर केवल कोरम पूरा कर रहा है। नगरपालिक निगम के अधिकारियों द्वारा केवल पेपरों में योजनाएं चलाई जा रही हैं, जमीनी हकीकत यह है कि नगरपालिक निगम भिलाई कोरोना प्रोटोकॉल का पालन नहीं कर पा रहा है। नगरपालिक निगम भिलाई के आयुक्त, कोविड प्रभारी सहित स्वास्थ्य विभाग से अनुरोध है कि शांतिनगर वार्ड 14 (पूर्व में वार्ड 10) के हर स्ट्रीट में हर घर मास्क वितरण, नियमित सेनेटाइजेसन, साफ-सफाई एवं अस्थाई कोविड टेस्टिंग सेंटर शीघ्र आरंभ कराया जाये ताकि वार्ड 14 के रहवासियों को कोरोना संक्रमण से रहत दिलाई जा सके।

Share