वह दौर…जब बिल्कुल धोनी जैसे बन गए थे सुशांत सिंह राजपूत, उनके घर पर भी रहे कई दिन…पढ़े पूरी खबर…

Share

नई दिल्ली (एजेंसी)।  सुशांत सिंह राजपूत इस दुनिया को अलविदा कह चुके हैं. उनका यूं अचानक रुख्सत हो जाना उनके फैंस के लिए किसी झटके से कम नहीं है. जब भी सुशांत की बात होती है तो उनकी सबसे यादगार फिल्म ‘एमएस धोनी: द अनटोल्ड स्टोरीÓका जिक्र जरूर आता है. उन्होंने जिस तरह से इस फिल्म में धोनी का किरदार निभाया था, वो हर किसी के लिए मुमकिन नहीं था. फिल्म में वो हूबहू धोनी की तरह दिख रहे थे.
फिल्म की कामयाबी के पीछे सुशांत सिंह राजपूत की कड़ी मेहनत और उनका डेडिकेशन था. धोनी की फिल्म में एक्टिंग करने से पहले सुशांत के लिए ये बेहद जरूरी था कि वो बिलकुल धोनी की तरह दिखें और उनकी चाल और स्टाइल पूरी तरह धोनी जैसी हो. ऐसा करने के लिए ये जरूरी था कि सुशांत ज्यादा से ज्यादा वक्त धोनी के साथ बिताएं ताकि उनको कॉपी करना आसान हो जाए. सुशांत ने बिलकुल वैसा ही किया. धोनी के कैरेक्टर को समझने ने लिए सुशांत ने उनके परिवार के साथ भी वक्त गुजारा. सुशांत धोनी के साथ उनक् घर पर भी रहे और उनकी तरह हर काम को करने की कोशिश की. एक यूट्यूब वीडियो में दिखाया गया है कि कैसे सुशांत अपने रोल को जस्टिफाई करने के लिए धोनी की तरह जिम में पसीना बहाते हैं, माही की तरह ग्लास में दूध पीते हैं, उनकी तरह पैदल चलने, कपड़े पहनने और अखबार पढऩे की कोशिश करते हैं. धोनी को कॉपी करने के लिए सुशांत के लिए ये भी बेहद जरूरी था कि वो माही के साथ मैदान में वक्त गुजारें और उनके बैटिंग स्टाइल को अपनी आदतों में शुमार करें. इसके लिए सुशांत ने मैदान में काफी पसीना बहाया. वो 9 महीने से ज्यादा वक्त तक हर दिन क्रिकेट की प्रैक्टिस करते रहे. जब शॉट की शूटिंग का वक्त आता तो वह रोज 3 घंटे से ज्यादा बल्लेबाजी करते.Ó क्रिकेट की ट्रेनिंग के अलावा राजपूत को ‘कैप्टन कूलÓ के एहसासों को भी पेश करना पड़ा. इसके लिए उन्हें धोनी की मानसिकता समझनी पड़ी, खास कर तब, जब उनकी टीम हार या जीत रही होती थी. जब ये फिल्म रिलीज हुई तब महेन्द्र सिंह धोनी ने कहा कि वो ये देख कर दंग रह गए कि बायोपिक ‘एमएस धोनी: द अनटोल्ड स्टोरीÓ में एक्टर सुशांत सिंह राजपूत ने उनके किरदार को पूरी बारीकियों के साथ निभाया है. खास तौर पर धोनी के ट्रेडमार्क ‘हेलीकाप्टरÓ शॉट को सुशांत ने पूरी तरह कॉपी कर लिया था. धोनी ने ये भी कहा था कि, ‘जिस तरह में चलता हूं, जिस तरह बोलता हूं, उन्होंने तकरीबन हर चीज की नकल की. दरअसल, उन्हें ये सभी चीज करते देखते हुए मैं दंग रह गया।


Share